Blog

कोई उम्मीद

कोई उम्मीद ना थी बाकी अब उनके आने की...... ना थी मालूम कोई वजह उनके चले जाने की...... वक्त ठहेरा ठहेरा सा अब तो है लगे तिनका तिनका बिखरा सा क्यों लगे टूटे सारे सपने जो थे हमने सजाये यादें बस उनकी अब हमें तो रुलाए कोई उम्मीद ना थी बाकी अब उनके आने की...... … Continue reading कोई उम्मीद

रूप सलोना

अपना कहे फिर क्यों तू डरे है आँख-मिचोली मुजसे ही खेले है बैरी ज़माना चाहे बातें करे सौ काँटों की चादर राहों में बिछाये वो हमें उनसे अब है क्या लेना देना आठों पहर हो बस खुशियों का मेला रूप सलोना तेरा चंदन काया चेहरे पे लहेराये ज़ुल्फों का साया बाली उमर पे तेरी मरता … Continue reading रूप सलोना

किसी रोज़ तुमसे

(Song Tune - हमें तुमसे प्यार कितना  – Sung by Kishor Kumar) किसी रोज़ तुमसे जो, हाँ फिर मुलाकात हो कोई शिकवा तुमसे, हम ना करेंगे तेरी मुस्कुराहटों पे मरते थे हम तेरे संग राहों पे चलते थे हम बरसों की प्रीत पल में, भूला के चले...... कभी ख़्वाब में गर, हाँ फिर मुलाकात हो … Continue reading किसी रोज़ तुमसे

Bella Ciao – Song Parody – બહેડા ખાવ

નાટકના રીડિંગ પછી ચારી સર કે’હ બહેડા ખાવ, બહેડા ખાવ બહેડા ખાવ, ખાવ, ખાવ...... ઠંડુ પાણી હમણાં ન પીતા અહીંથી સીધા ઘરે જાઓ, જાઓ, જાઓ...... કાઢો પીવડાવે, ચોકલેટ ખવડાવે કે’હ સૂરમાં ગાવ, સૂરમાં ગાવ, સૂરમાં ગાવ, ગાવ, ગાવ...... થોડા પંપાળે, થોડા હંફાવે, પણ દિલના ભોળા એ સાવ, સાવ, સાવ....... રંગમંચના જાણીતા અને અમારા વ્હાલા શ્રી … Continue reading Bella Ciao – Song Parody – બહેડા ખાવ

थैंक यू – कोरोना वायरस!!

धन्यवाद कोरोना वायरस! कोई तुम्हे कुछ भी कहे पर मुझे तुम्हारा शुक्रिया अदा करना है! क्योंकि, अगर तुम न आते तो, मैं शायद कभी रात को छत पे सोते सोते पापा के साथ ध्रुव का तारा न देख पाता अगर तुम न आते तो, मैं शायद कभी फूलों के रंग और मिट्टी की खुशबू महसूस … Continue reading थैंक यू – कोरोना वायरस!!

અથાણું રે અથાણું

(ધૂન - ટામેટું રે ટામેટું - Kid's Rhyme) અથાણું રે અથાણું દાદી કરે અથાણું તીખું-તમતમ અથાણું ગુંદા-કેરી અથાણું અથાણું રે અથાણું ખાટું-મીઠું અથાણું લાલ-પીળું અથાણું ગોળ-કેરી અથાણું અથાણું રે અથાણું પપ્પા ખાય અથાણું પૂરી ભાત સાથે ચણા-મેથી અથાણું - Copyrights @ Karta

હવે શું કરવાનું?

“હું અંદર જાઉં?” હીંચકા પર બેઠેલા મારા દાદીએ પૂછ્યું. સામેથી કોઈ જવાબ ન મળ્યો. “હવે શું કરવાનું છે?” મારા દાદીએ બે મિનીટ પણ નહિ થઈ હોય ને ફરી સવાલ કર્યો. “શું કહ્યું?” મારા દાદાના કાને પડેલા અવાજે વળતો સવાલ પૂછતા કહ્યું. “અહીં જ બેસું?” દાદીએ થોડા મોટા અવાજે પૂછ્યું. “હા, આખો દિવસ બીજું શું કરી … Continue reading હવે શું કરવાનું?

CORONA–Parody-Bada Pachtaoge

Ho Ghar Se Ghumne, Jo Tum Jaaoge Jo Tum Jaaoge, Jo Tum Jaaoge Ho Ghar Se Ghumne, Jo Tum Jaaoge Bada Pachtaoge, Bada Pachtaoge Caller Tune Wali Baat, Didi Ki Mano Shardi Khansi Ho Agar, Rumal Use Karo Caller Tune Wali Baat, Didi Ki Mano Thodi Thodi Der Me Tum Hand Wash Karo Ho Shakehand … Continue reading CORONA–Parody-Bada Pachtaoge

पास मेरे आ जाओ

कहने को तो कुछ भी नहीं है अरमां दिल के अब भी वही है खामोशी की ज़ुबां समझकर आँखों से इस दिल में उतरकर पास मेरे तुम आ जाओ थोड़े पास मेरे आ जाओ और हमें ना यूँ तडपाओ पास मेरे तुम आ जाओ चंद लम्हें किस्मत से मिले है गुलशन में भी फूल खिले … Continue reading पास मेरे आ जाओ

कोई ना जाने

कोई ना जाने ये क्या हो गया दिल ये दीवाना कैसे खो गया चाहत में तेरी मदहोश हो गया ना जाने कैसे यह कब हो गया कोई ना जाने ये क्या हो गया..... बैरी ज़माना चाहे जो भी कहे दिल का फ़साना अब मिट ना सके दामन यह तेरा ना छुटे कभी दुनिया की रश्मे … Continue reading कोई ना जाने

ना रहा हक़

ना रहा हक़ मेरा तुमपे कोई ना छुपी बात अब हमसे कोई वो कसमें वादें किये थे जो रही ना उनकी भी कीमत कोई कहता रहा मैं खुदसे हरदम होगी मेरी ही गलती कोई वक्त का यह हसीं कैसा सितम कुर्बत में तेरी है अब कोई रंग लाई देखो क्या मेरी वफ़ा समझा क्या और … Continue reading ना रहा हक़