ओ मनचले

बम-बम भोला की बम-बम भोला की बम-बम
तन-तन डोला की मन-मन डोला की बम-बम

हो हो हो बम बम भोला
ओ ओ ओ शिव शिव शिवा
ना ना ना हो अब कोई गिला

मस्ती में मैं झूम उठा
मैं तो हूँ मनचला
राहों में यूँ चल पड़ा

थोडा मदहोश ही सही
मस्ती में यूँ खो चला
ना हो अब कोई फिकर
तेरा मैं यूँ हो चला

चल चल चल ओ मन-चले
रुकना ना तु अब कहीं

मंज़िले दूर है
ये तो दस्तूर हैं
चलना ही तेरा काम
आना है मेरे पास

मुज में सिमट के ही तु
खुद को मिल पायेगा
चल चल चल ओ मन-चले
रुकना ना तु अब कहीं

आया था खाली हाथ
जायेगा खाली हाथ
कुछ भी यहाँ से तु
ले ना जा पायेगा

हर एक पल में तु ज़रा
खुशियाँ बटोर ले यूँ ही
न जाने कब होगा क्या भला
इस पल को तु जीले ओ मन-चले

खुद पे तू होंसला बनाये रख
अरमान सारे तेरे पूरे होंगे यूँही
तु मुजसे दूर होके भी तो
मुज मैं ही समाया इस कदर

चल चल चल ओ मन-चले
मस्ती में तु झूम ले ज़रा
चट्टानों को चिर के तु अब
मुज में ही समा जा ज़रा

नदियों का पानी जब
सहेलाब बन के बह चला
डम डम डम डमरू बजे
घम घम घम मैं नाचूं आज

ना ना ना करते आज
मन-चले तु तो यूँ चलदिया
मंज़िले यूँही मिल जाएगी तुजे
चल चल चल ओ मन-चले

ना कोई है मुजसे जुदा
ना कोई हो मुजसे खफ़ा
संसार के कण-कण में यूँही
मैं ही बसा तु भी बसा

जीवन के हर रंगों में
गहेरे सन्नाटो में भी
रात के अंधेरो में
दिन के उजालों में भी
मैं ही बसा तु भी बसा

बम बम बम बमचिका
डम डम डम डमचिका

ल ल ला ला ला ला ला……
हा हा हा हा हा हा हा……
ना ना ना नाना नाना ना……
ता रा रा रा रा रा रा रा…….

-© KARTA™ Regd No. 105122848969

Advertisements

10 thoughts on “ओ मनचले

  1. Karta really great song/poem I am waiting to listen with some music. Words in poem are so good and full of masti that it can make people happy.

    Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s